You have entered the world of InnerSoul …!


You’ll find positive, Motivational thoughts... In poetry few are written by Me n others too & Some r Translated also. I feel that thoughts heighten the awareness of our feelings & world around us.

जय गुरुदेव ...

यह पोस्टिंग पढने के लीये "design" पर क्लिक करें ...!

10 comments:

रश्मि प्रभा... said...

गुरु के प्रति इस श्रध्दा को देख अच्छा लगा......
"बलिहारी गुरु आपने जिन गोविन्द दियो बताये..."

Jyotsna Pandey said...

शत-शत नमन गुरुवर को ......
तुम्हारी आस्था और विशवास दृढ रहे ...........

BE WITH TRUTH said...

GURU JI KEE BINA KUCH NAHI, ZINDGI AADURI HAI

નીતા કોટેચા said...

bahuuuuuuuu j saras..

bas ek khami ...aama ek photo hovo joito hato guruji no....to vadhare gamat...

preeti said...

तुम्हारा गुरूजी के प्रति प्रेम और समर्पण प्रगाढ़ है उनका का साथ और आशीर्वाद हमेशा तुम्हे प्राप्त हो.........

श्रद्धा जैन said...

Main padhne mein asamrth hoon
kaise padhun?

MAYUR said...

bahut uttam ,
आपको पढ़कर खुशी हुई
साथ ही आपका चिटठा भी खूबसूरत है ,

यूँ ही लिखते रही हमें भी उर्जा मिलेगी ,

धन्यवाद
मयूर
अपनी अपनी डगर

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari said...

क्षमा करें, मैं आपके ब्‍लाग की विषय सामागी के संबंध में कुछ नहीं कह रहा हूं, सिर्फ इसके कलेवर के संबंध में कहना चाह रहा हूं, यह टाम्‍पलेट बहुत सुन्‍दर और प्‍यारा टैम्‍पलेट है, इसे बेहतर ढंग से समायोजित कर अपनी भावनायें इसमें प्रस्‍तुत करेंगी तो वह और भी अधिक प्रभावी जान पडेगा ।

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari said...

* प्रभावी जान पडेगा - प्रभावी जान पडेगी

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

सत् गुरू हैं संसार में, सबसे अधिक महान।
इनका सेवा से मिलें, सेवक को भगवान।।